इन 3 बैंकों ने महंगा किया लोन अब पहले से इतनी अधिक देनी होगी EMI

खबरें व्हाट्सप्प पर पाने के लिए,अभी जॉइन करें व्हाट्सप्प ग्रुप
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

इन 3 बैंकों ने महंगा किया लोन अब पहले से इतनी अधिक देनी होगी EMI– रिजर्व बैंक के रेपो रेट में बढ़ोतरी के बाद बैंकों ने अपने कर्ज की दरों में इजाफा किया है। इसी कड़ी में केनरा बैंक की ओर से लेंडिंग रेट में बढ़ोतरी की घोषणा की गई है। केनरा बैंक की रेपो रेट-लिंक्ड लेंडिंग रेट में 50 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी की गई है। केनरा बैंक ने 7 अगस्त से अपनी उधारी दरों को बढ़ाकर 8.30 प्रतिशत कर दिया है।

मुद्रास्फीति को नियंत्रित करने के साधन के रूप में रिजर्व बैंक द्वारा रेपो दर में 50 आधार अंकों की वृद्धि की घोषणा की गई थी। जवाब में, केनरा बैंक ने घोषणा की कि वह अपनी उधार दर में वृद्धि करेगा। साथ ही आईसीआईसीआई बैंक और पंजाब नेशनल बैंक, पंजाब नेशनल बैंक ने अपनी उधार दरों में वृद्धि की है।

रिजर्व बैंक ने शुक्रवार को ब्याज दरों में बढ़ोतरी की घोषणा की। रेपो रेट मौजूदा समय में अपने प्री-कोरोना महामारी के स्तर 5.15 प्रतिशत पर पहुंच गया है। रिजर्व बैंक अब तक रेपो रेट में तीन बार बढ़ोतरी कर चुका है। रिजर्व बैंक से बैंकों को रेपो रेट पर कर्ज मिलता है।

केनरा बैंक के अनुसार, इसके आम ग्राहकों के लिए होम लोन की ब्याज दरें अब 8.10 प्रतिशत होंगी। महिला लेनदारों ने भी अपनी उधार दरों में 8.05 प्रतिशत की वृद्धि देखी है। केनरा बैंक में महिला उधारकर्ताओं को उनकी ऋण दरों पर 0.5% की छूट मिलती है।

पंजाब नेशनल बैंक और आईसीआईसीआई बैंक में भी उधार दरों में वृद्धि हुई है। रिजर्व बैंक द्वारा बेंचमार्क ब्याज दर में हर बार बढ़ोतरी की गई है। जिन दरों पर आईसीआईसीआई बैंक बाहरी बेंचमार्क ऋण प्रदान करता है, वे रिजर्व बैंक रेपो दरों से बंधे होते हैं।

9.10 प्रतिशत के अपने नए ईबीएलआर के साथ, आईसीआईसीआई बैंक दुनिया का सबसे अधिक तरल बैंक है। 5 अगस्त 2022 इस नई दर का पहला दिन होगा। यह बैंक इससे लिए गए कर्ज पर कम ईएमआई देता था, लेकिन अब वे ज्यादा ईएमआई वसूलते हैं।

30 लाख के कर्ज पर आईसीआईसीआई बैंक ने पहले 8.60 फीसदी की दर से ब्याज वसूला था। 20 साल के लिए कर्ज लेने पर हर महीने की ईएमआई 26,225 रुपये हुआ करती थी। अब कर्ज पर 9.10 फीसदी की ब्याज दर है।

Read Also-

जब हम 20 वर्षों में ईएमआई की गणना करते हैं, तो यह 27,185 रुपये हो जाता है। इसके परिणामस्वरूप ग्राहकों को उधार दर में वृद्धि के कारण 960 रुपये प्रति माह का भुगतान करना होगा। इससे थोड़ी कम राशि केनरा बैंक और पंजाब नेशनल बैंक के ग्राहकों को भी चुकानी होगी।

पंजाब नेशनल बैंक के अलावा दो अन्य बैंक भी अपनी उधारी दरें बढ़ा रहे हैं। भारतीय रिजर्व बैंक की रेपो दर पंजाब नेशनल बैंक यानी पीएनबी का बाहरी बेंचमार्क है। पंजाब नेशनल बैंक ने 7.90 प्रतिशत की नई दर निर्धारित की है।

पीएनबी ने उधारी दर में 50 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी की घोषणा की है। पहले यह दर 7.40 प्रतिशत थी, लेकिन अब इसे बढ़ाकर 7.90 प्रतिशत कर दिया गया है। 8 अगस्त, 2022 पीएनबी में नई दर के प्रभावी होने की तारीख है। ग्राहकों को नए कर्ज पर उतनी ही ब्याज दर चुकानी होगी।

Click to rate this post!
[Total: 0 Average: 0]
खबरें व्हाट्सप्प पर पाने के लिए,अभी जॉइन करें व्हाट्सप्प ग्रुप
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Hey, My Name is Kiran. I'm the Owner of this Website. I'm in Banking Sector in Last 5 years . And I have 5 Years of experience in Loan, Finance, Insurance, Credit Card & LIC....

Leave a Comment